मंत्री के कर्मचारी व अधिकारियों पर लाँक डाउन उलंघन को ले प्राथमिकी दर्ज

मंत्री के कर्मचारी व अधिकारियों पर लाँक डाउन उलंघन को ले प्राथमिकी दर्ज

मंत्री ने कहा राहत वितरण के लिए अधिकारी गांव गये थे जहां ग्रामीणों ने उन्हें भोजन कराया, गलती कहां हुयी ये जांच का विषय है

मीडिया को संबोधित कर जानकारी देते हुए ए.डी.जी. जीतेंद्र कुमार

पटना(संवाददाता)। लाॅकडाउन का उल्लंघन करने वाले आम व खास लोगों पर कानूनी दंडा चलना तेज हो गया है। यही वजह है कि लाॅकडाउन को ताक पर रखकर मछली-चावल की पार्टी करने वाले बिहार के शिक्षा मंत्री कृष्णानंदन वर्मा के एक चतुर्थवर्गीय कर्मचारी पिंटू कुमार यादव को महंगा पड़ा है। यह पार्टी जहानाबाद जिले के मखदुमपुर प्रखंड के सुगांव में बीते 15 अप्रैल को आयोजित की गई थी। इस पार्टी में लाॅकडाउन व सोशल डिस्टेंसिंग का उल्लंघन करते हुए बड़ी तादाद में सरकारी महकमा से जुड़े व अन्य लोगों ने भाग लिया था। पार्टी में मछली-चावल सहित कई व्यंजनों का इंतजाम था। पार्टी में स्थानीय लोगों के अलावा जिले व मखदुमपुर प्रखंड के कई अधिकारियों व नामचीन हस्तियों के भाग लेने की सूचना प्रशासन को प्राप्त हुई थी। इस आलोक में पुलिस अधीक्षक मनीष कुमार ने जांच का निर्देश दिया था। सहायक पुलिस अधीक्षक पंकज कुमार के नेतृत्व में जांच की गई। जांच के बाद पुलिस अधीक्षक के निर्देश पर टेहटा ओपी प्रभारी बैरिस्टर पासवान ने 8 नामजद व 30 अज्ञात लोगों पर प्राथमिकी दर्ज की है। इसका कांड संख्या 129/2020 है। जिसमें आपदा अधिनियम, 188, 269, 270, 271 आईपीसी धारा लगाए गए हैं। नामजद लोगों में पार्टी आयोजक गृह स्वामी पिंटू कुमार यादव, एसडीपीओ प्रभात भूषण श्रीवास्तव, मखदुमपुर के बीडीओ अनिल मिस्त्री, सीओ राजीव रंजन, सामाजिक कार्यकर्ता एस.के.सुनील, वीरेन्द्र सिंह, प्रवीण शर्मा व संतोष कुमार शामिल हैं। मखदुमपुर के थानेदार धनंजय कुमार का कहना है कि प्राथमिकी दर्ज कर ली गई है। पार्टी का आयोजन गृह प्रवेश के सवा महीने पूरा होने के उपलक्ष्य में किए गए थे। भव्य भवन का गृह प्रवेश बीते 6 मार्च को किया गया था। उस समय भी भव्य समारोह का आयोजन किया गया था।

इधर, इस मामले पर नीतीश सरकार के शिक्षा मंत्री कृष्णानंदन वर्मा का कहना है कि जहानाबाद जिले के कुछ अधिकारी हमारे गांव गए थे। जहां वे राहत सामग्री बांट रहे थे। इस पर गांव के कुछ लोगों ने कहा, आप हमारे लिए इतनी मेहनत कर रहे हैं तो हमारे साथ भी कुछ खाकर जाइए। कुछ लोगों के साथ बैठकर खाना खाया होगा। लेकिन, इस दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का पालन हुआ या नहीं यह जांच का विषय है। अगर इस मामले में कहीं भी कानून का उल्लंघन हुआ है तो दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

admin

Related Posts

राज्यपाल ने संतोष की शहादत को किया नमन

Comments Off on राज्यपाल ने संतोष की शहादत को किया नमन

leave a comment

Create Account



Log In Your Account