सुशील मोदी को पहले भाजपा के दफ्तर में जिन्ना का तस्वीर लगाना चाहिए: युवा राजद

समाचार

पटना। युवा राजद के प्रदेश प्रवक्ता सह मीडिया प्रभारी अरूण कुमार यादव ने उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी के बयान पर पलटवार करते हुए कहा कि दूसरे को पार्टी दफ्तर में जिन्ना का तस्वीर लगाने की सलाह देने के पहले सुशील मोदी को भाजपा के दफ्तर में जिन्ना का तस्वीर लगा लेना चाहिए। क्योंकि उनके मार्गदर्शक और भाजपा के कदावर नेता पूर्व उपप्रधानमंत्री लालकृष्ण आडवाणी पाकिस्तान में जिन्ना के मकबरे पर जाकर मत्था टेकने का काम किये थे साथ ही उन्होंने जिन्ना को देशभक्त भी कहा था। भाजपा के दूसरे नेता पूर्व केन्द्रीय मंत्री यशवंत सिंह ने भी जिन्ना को देशभक्त कह चुके हैं। वो अपनी किताब में भी जिन्ना की प्रशंसा की है। भाजपा नेता यशवंत सिंह भी कराची गये थे और उन्होंने जिन्ना के मकबरे पर मत्था टेका था। यही नहीं बल्कि उतर प्रदेश के एक मंत्री एस.पी. मौर्य ने भी जिन्ना को देशभक्त कह चुके हैं। यदि भाजपा के इतने बड़े-बड़े कदावर नेता जिन्ना को देशभक्त की उपाधि दे चुके हैं तो फिर भाजपा खुद स्पष्ट करें कि जिन्ना के प्रति उनका क्या नजरिया है? भाजपा को जान लेना चाहिए कि राष्ट्रीय जनता दल महात्मा गांधी, लोहिया, जे0पी0, कर्पूरी ठाकुर के विचारधारा और आदर्शों पर चलने वाली पार्टी है।

श्री यादव ने कहा कि भाजपा की केन्द्र सरकार अपने शासनकाल के चार वर्षों में हर मोर्चे पर विफल साबित हुई है। इसलिए अपनी सरकार की नाकामी को छुपाने के लिए जब चुनावी समय आता है तो भाजपा चुनावी फायदे के लिए जिन्ना फोटो विवाद, तो कभी गाय-गोबर विवाद, तो कभी लब जिहाद (विवाह), तो कभी मंदिर-मस्जिद विवाद कर देश के जनता का ध्यान बेरोजगारी, महंगाई, आतंकवाद, भुख और भ्रष्टाचार जैसे मूल-भूत समस्याओं से भटकाने का काम करती है। देश की जनता अब इस जुमलेबाज भाजपा को समझ चुकी है। इसके बहकावे में अब देश की जनता आने वाली नहीं है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.