बीएड कॉलेज में शुल्क निर्धारण को लेकर आमरण अनशन

समाचार

विवि पीआरओ प्रो शम्भु दत्त झा ने बताया कि दीक्षांत समारोह में 93 छात्रों को स्वर्ण पदक दिये जायेंगे वहीं डी लिट करने वाले 5 और पीएचडी करने वाले 177 छात्रों को उपाधि जायेगी। एमए/ एमएससी/एमकॉम एवं व्यवसायिक कोर्स में 1548 छात्रों को उपाधि प्रदान की जायेगी।

भागलपुर। एक तरफ विवि प्रशासन 45वें दीक्षांत समारोह को लेकर व्यस्त है, वहीं विवि के सभी 14 बीएड कॉलेज के छात्र छात्राओं का एक दल बीएड छात्र संघ के बैनर तले नामांकन शुल्क को लेकर प्रशासनिक भवन के सामने आमरण अनशन पर है। आईसा के राज्य समिति सदस्य प्रवीण कुशवाहा ने कहा कि इस अनशन में आईसा शामिल है। अनशन पर बैठे छात्रों ने मांग की है कि सत्र 2017-19 के लिए नामांकन  शुल्क 105000/- हीं रखा जाए। छात्र अभिषेक तिवारी ने बताया कि सभी कॉलेजों के संसाधनों की जांच हो और उसे सार्वजनिक किया जाए। जांच समिति में छात्र और शिक्षकों के प्रतिनिधियों को भी शामिल किया जाए। सत्र 2018-20 में अवैध रूप से नामांकित छात्रों की उच्च स्तरीय जांच की जाए। अनशन पर दर्जनों छात्र छात्राएं हैं। निवास कुमार, आशुतोष कुमार, जयकृष्ण व विनीत आदि नेतृत्व कर रहे हैं। इस बारे में जब विवि पीआरओ प्रो शम्भु दत्त झा से बात की गई तो उन्होंने बताया कि अनशन पर बैठे छात्रों से सीसीडीसी डॉ के एम सिंह, महाविद्यालय निरिकक्ष कला एवं वाणिज्य डॉ सरोज कुमार राय समेत कई अधिकारियों ने वार्ता की। वार्ता करीब आधे घंटे से ज्यादा चली पर तत्काल कोई अन्तिम निर्णय नहीं लिया जा सका है।