स्वस्थ भारत यात्रियों का बिहार में प्रवेश, यात्रा का चौथा चरण शुरू होगा भागलपुर से

समाचार

स्वस्थ भारत यात्रा का तीसरा चरण पूरा, पूर्वोत्तर के पांच राज्यों में हुए 29 आयोजन, यात्रियों ने तय किए 3500 किमी की यात्रा

पूर्वोत्तर के लोग मेहनती, उद्यमी एवं ईमानदार हैः आशुतोष कुमार सिंह

महात्मा गांधी के 150 वीं जयंती वर्ष पर साबरमती से निकली है यात्रा, स्वस्थ भारत (न्यास) ने की है पहल, 52 दिनों में 13 हजार किमी की यात्रा, 19 राज्यों का दौरा कर चुके हैं यात्री

भागलपुर। महात्मा गांधी के 150 वीं जयंती वर्ष पर साबरमती आश्रम अहमदाबाद से शुरू स्वस्थ भारत यात्रा-2 का चौथा चरण बिहार के भागलपुर से 25 मार्च से शुरू होगा। इस चरण में यात्री भागलपुर, पटना, मुजफ्फरपुर, छपरा, सीवान, गोपालगंज, बेतिया, भितिहरवा आश्रम सहित उत्तरप्रदेश एवं उत्तराखंड का दौरा करेंगे। 15 दिन के इस चरण का समापन गाजियाबाद में होगा।

वरिष्ठ स्वास्थ्यकर्मी एवं स्वस्थ भारत (न्यास) के चेयरमैन आशुतोष कुमार सिंह के नेतृत्व निकली इस यात्रा में वरिष्ठ पत्रकार प्रसून लतांत, प्रियंका सिंह, शंभू कुमार, विवेक शर्मा, पवन कुमार एवं विनोद रोहिल्ला शामिल हैं।

जनऔषधि दिवस के अवसर पर 7 मार्च, 2019 से कोकराझाड़ (असम) से शुरू स्वस्थ भारत यात्रा-2 का तीसरा चरण सिलीगुड़ी में 23 मार्च को संपन्न हुआ। तीसरे चरण में स्वस्थ भारत यात्रियों ने असम, मेघालय, त्रिपुरा, मणिपुर एवं नगालैंड का दौरा किया और 3500 किमी अपनी यात्रा में यहां पर आयोजित 29 कार्यक्रमों के माध्यम से पूर्वोत्तर के लोगों को जनऔषधि, पोषण और आयुष्मान के बारे में जागरूक किया। तीसरे चरण में पांच राज्यों में जिन प्रमुख शहरों में यात्रा पहुंची उसमें कोकराझार, गुवाहाटी, शिलांग, करीमगंज, बदरपुर (असम), अगरतला, पानीसागर, शिलचर, इंफॉल, कोहिमा, दीमापुर और तेजपुर प्रमुख हैं।

मीडियाकर्मियों से बातचीत करते हुए स्वस्थ भारत के न्यास के चेयरमैन आशुतोष कुमार सिंह ने पूर्वोत्तर के अनुभव को साझा करते हुए कहा कि यहां के लोग बहुत ही मेहनती, ईमानदार एवं परोपकारी हैं। यहां की महिलाओं की मेहनत को रेखांकित करते हुए उन्होंने कहा कि पूर्वोत्तर की अर्थव्यवस्था की धूरी हैं यहां की महिलाएं। पूर्वोत्तर में खासतौर से वनवासी इलाकों में स्वास्थ्य को लेकर सघन जागरूकता अभियान चलाए जाने पर जोर देते हुए उन्होंने कहा कि सरकार की अच्छी-अच्छी योजनाओं का लाभ यहां के लोग नासमझी में नहीं उठा पाते हैं। ऐसे में यह जरूरी है कि लोगों को तबतक जागरूक किया जाए जब तक उनमें स्वास्थ्य की समझ विकसित नहीं हो जाती।

यात्रा का दूसरा चरण नागपुर से शुरु हुआ था। नागपुर से सिलीगुड़ी तक पांच राज्यों, मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़, ओड़िशा, झारखंड और पश्चिम बंगाल में स्वस्थ भारत यात्रियों ने स्थानीय लोगों और जनऔषधि केन्द्रों के सहयोग से विभिन्न कार्यक्रमों को अंजाम दिया, इसके पहले चरण में यात्री दल ने दक्षिण भारत के सभी 7 राज्यों कर्नाटक, केरल, तमिलनाडू, पुदुचेरी, दमन, आन्ध्रप्रदेश और तेलांगना के अलावा गुजरात और महाराष्ट्र की यात्रा की, जिनमें पदयात्रा, कार रैली, बाइक रैली, विचार गोष्ठी, जनऔषधि केन्द्रों के उद्घाटन आदि कार्यक्रम उल्लेखनीय हैं। अब तक की यात्रा के क्रम में 109 आयोजन हुए हैं, जिनमें 21 दिनों के पहले चरण में 50 आयोजन हुए जबकि 15 दिनों के दूसरे चरण में 30 एवं 16 दिनों के तीसरे चरण में 29 आयोजन हुए। महात्मा गांधी के 150 वीं जयंती वर्ष पर गांधी जी के शहादत दिवस 30 जनवरी को उनके साबरमती स्थित साबरमती आश्रम से स्वस्थ भारत यात्रा-2 की शुरूआत हुई।

इस यात्रा को विभिन्न शैक्षणिक संस्थानों एवं गैर-सरकारी संस्थाओं का भरपुर समर्थन मिल रहा है। इस यात्रा में आमलोग भी भरपुर साथ दे रहे हैं। यात्री दल के साथ आम लोग पदयात्रा, बाइक यात्रा एवं सभा-संगोष्ठी का आयोजन कर रहे हैं।

Swasth Bharat (Trust)
C-90, UGF-003,Srichand Park,
Matiyala Village, Uttam Nagar, New Delhi-110059
www.swasthbharat.org.in
www.swasthbharat.in
www.facebook.com/swasthbharaabhiyan
twitter.com/swasth_bharat
Email-forhealthyindia@gmail.com
Mo-9811288151/9891228151
9810939766