बिहार के विकास को संकल्पित हुए विहिसं

बिहार के विकास को संकल्पित हुए विहिसं

Spread the love

जल्द बनेगा राम जानकी मंदिर, लोग जमीन भी देने को तैयार: डाॅ देवेन्द्र
रिसर्च कुछ देकर ही जाता है: डाॅ दिवाकर
समृद्ध व खुशहाल बिहार बनाने के लिए मजबूत कार्यकारिणी आवष्यक: प्रो मधुसूदन झा

पटना (श्रीमती रिंकु रंजन)। डॉ. सुब्रह्मणियन् स्वामी के नेतृत्ववाली विराट हिन्दुस्तान संगम की बैठक बेविनार के माध्यम से आज सम्पन्न हुयी। जिसकी अध्यक्षता प्रदेश अध्यक्ष प्रो. डॉ. देवेन्द्र प्रसाद सिंह ने की। उन्होंने कहा कि सीतामढ़ी में भव्य राम जानकी मंदिर बनाने की योजना है। इसके लिए भूमि भी दान करने के लिए वहां के दाता तैयार हैं लेकिन कोरोना के कारण यह शुभ काम बाधित हो गया है। कोरोना काल के बाद इस पर पुनः कार्य किया जायेगा।

बेविनार करते प्रदेश अध्यक्ष प्रो. डॉ. सिंह और अन्य पदाधिकारी


उन्होंने कहा कि आज देश और प्रदेश की जो स्थिति है वह किसी से छुपी हुयी नहीं है। हमारा भी दायित्व है कि देश और प्रदेश के लिए कुछ करें। पटना में विराट हिन्दुस्तान संगम के सहयोग से डॉ. एच एन दिवाकर रिसर्च इंस्टीट्यूट चलाने को तैयार हैं। यह संगठन की बड़ी उपलब्धि है।
उन्होंने कहा कि बहुत कम समय में ही हमारे संगठन से विभिन्न विश्वविद्यालयों के प्राध्यापक, वरिष्ठ पत्रकार और वरिष्ठ चिकित्सक सरीखे विद्वान जुड़कर संगठन को मजबूती प्रदान कर रहे हैं। इसके साथ ही बड़ी संख्या में युवाओं का रूझान भी इस संगठन की ओर हो रहा है जो बिहार के विकास को ले आशान्वित हैं।
बिहार के विकास के लिए हर तत्व यहां मौजूद है फिर भी बिहार की पहचान पिछडे राज्यों के रूप में होती है। बिहार के विकास के लिए मानव बल, खनिज और बारहमासी नदियां हैं फिर भी हम पिछडे हैं तो निश्चित रूप से हम इसके लिए जिम्मेवार हैं।
ऐसी परिस्थितियों से उबरने के लिए नये रूप में बिहार के विकास में अपना योगदान देने का समय आ गया है। हम लोग संगठन को मजबूत करें ताकि नया और विकसित बिहार बनाया जा सके।
प्रो.डॉ. टुनटुन झा अचल ने कहा कि बिहार के पिछड़ेपन को दूर करने के लिए जन-जन तक पहुंच कर समस्या के चयन के लिए दरभंगा के जिलाध्यक्ष को कहा है।
प्रो. डॉ. मधुसूदन झा ने कहा कि जल्द ही अंग क्षेत्र में कार्यकारिणी का विस्तार कर लिया जायेगा ताकि समृद्ध व खुशहाल बिहार बनाने की दिशा में अंगवासियों का भी महत्वपूर्ण यागदान हो इसके लिए हमलोग आगे बढे हैं।
डॉ. पुरञ्जय ने कहा कि छपरा, दरभंगा व पाटलिपुत्र विश्वविद्यालय के शिक्षकों को जोड़ने का प्रयास कर रहा हूं, जल्द ही सूची प्रदेश अध्यक्ष को सौंप दी जायेगी।
प्रो. डॉ. अरविन्द कुमार साह भागलपुर प्रमण्डलीय अध्यक्ष ने कहा कि सभी जिलों में जल्द ही अध्यक्ष की नियुक्ति कर कार्यकारिणी को पूर्ण कराकर प्रदेश अध्यक्ष को सूची सौंप दी जायेगी। साथ ही उन्होंने कहा कि संगठन को मजबूत करने के लिए कार्यक्रम जरूरी है व भागलपुर में एक कार्यालय की आवश्यकता है।
वैशाली उपाध्यक्ष प्रो. डॉ. रामेश्वर सिंह ने कहा कि हमलोग सिपाही की तरह लगे हैं कोरोना के समाप्त होने पर लोगों तक तेजी से पहुंचेंगे और पोस्टर भी लगाऊंगा ताकि समाज के साथ संगठन को जोड़ सकूं। ऐसा करके ही हम देश और प्रदेश का विकास कर सकेंगे।
कार्यक्रम संचालन प्रभारी प्रो. डॉ. वीरेन्द्र सिंह ने कहा कि जल्द ही नवनियुक्त लोगों की सूची प्रदेश अध्यक्ष को सौंपी जायेगी। अंजनी मिश्रा ने कहा कि संगठन की कार्ययोजना की रूपरेखा को आमजन तक पहुंचाने का प्रयास कर रहा हूँ।
भागलपुर जिलाध्यक्ष श्रीमती खुशबू मिश्रा कही कि जुलाई तक संगठन का विस्तार प्रखंड स्तर तक कर लूंगी।
डॉ. एच. एन. दिवाकर ने कहा कि बिहार के विकास के लिए मेहनत करने की आवश्यकता है। कौन सी समस्या है जो लोगों को परेशान करती है, यह खोजने की आवश्यकता है। यहां शिक्षा पर अरबों रूपये खर्च हुए लेकिन जो होना चाहिए वह इस बड़ी राशि ने नहीं किया गया। जबतक समुचित शिक्षा नहीं दी जायेगी तबतक बिहार विकास नहीं करेगा। साथ ही यह भी खोजना होगा कि बेरोजगारी का समाधान क्या है। हमारे यहां रिसर्च का अभाव है। रिसर्च खाली नहीं जाता है वह कुछ दे कर ही जाता है।
जेपी के निकटस्थ चिकित्सा प्रकोष्ठ के प्रदेश प्रभारी डॉ. विजय कुमार सिंह ने कहा कि बिहार के विकास पर हम बात कर रहे हैं यह बड़ी बात है। इसमें विराट हिन्दुस्तान संगम की बड़ी भूमिका है। बेरोजगारी, शिक्षा, बाढ पर हम बात कर रहे यह कम बड़ी बात नहीं है। इस वैचारिक संकल्प के तहत पिछड़े बिहार के नौजवान हमारे संगठन से जुड़कर एक बड़ा संदेश देंगे। डॉ. अंजनी कुमार सुमन ने कहा कि जल्द ही प्रकोष्ठ में पदाधिकारी जुड़ेंगे, बातें हो रही है। डॉ. सुरेश कुमार पंडित ने कहा कि संगठन को मजबूत करने में लगा हूँ।
डॉ. राज राजीव ने कहा कि किसान और युवा मंच के गठन की आवश्यकता है। कार्यक्रम को हेमचन्द्र राय, राजीव सिंह, रविचन्द्र प्रभाकर, सुभाष कुमार वर्णवाल, तुषार मिश्रा, अंजनी मिश्रा, अजय कुमार, प्रशांत शेखर, शारदानंद चैधरी, सुशील सिंह, लालरंजन पप्पू, शुभम गुर्दा, श्याम नंदन आदि ने भी संबोधित किया। वहीं कार्यक्रम का संचालन महासचिव डॉ. राज राजीव ने किया जबकि समापन आशीष कुमार राय महासचिव (संगठन) के धन्यवाद ज्ञापन से हुआ। उक्त जानकारी प्रदेश मीडिया प्रभारी डॉ. विभुरंजन ने प्रेस विज्ञप्ति जारी कर दी।

admin

Related Posts

राज्यपाल ने संतोष की शहादत को किया नमन

Comments Off on राज्यपाल ने संतोष की शहादत को किया नमन

leave a comment

Create Account



Log In Your Account